NPCI ने किया अलर्ट;शातिर ठगों के निशाने में अब बैंकिंग फ्रॉड..

पिछले कुछ महीनों में बैंकिंग फ्रॉड (Banking Fraud) के मामलों में इजाफा हुआ है. सबसे ज्यादा निशाना डिजिटल बैंकिंग (Digital Banking) और ऑनलाइन ट्रांजैक्शन (Online transaction) करने वाले लोगों को बनाया जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि आप अपने बैंक अकाउंट (Bank Account) को लेकर सावधान रहें. समय-समय पर बैंक, आरबीआई (RBI), एनपीसीआई (NPCI) आदि भी इस बारे में आम लोगों को सतर्क करता रहता है.

फ्रॉडस्टर्स अपना रहे ये तरीके

आजकल फ्रॉडस्टर्स नए तरीकों से लोगों को अपनी ठगी का शिकार बना रहे हैं. स्कैमर, फिशिंग ईमेल, एसएमएस और फोन कॉल करके लोगों का पैसा उड़ा रहे हैं. ये फ्रॉडस्टर्स खुद को बैंक ऑफिसर, आरबीआई ऑफिसर, इनकम टैक्स ऑफिसर आदि बताकर लोगों को ठगने का काम कर रहे हैं.

इतना ही नहीं अब ये ठग फर्जी बैंकिंग ऐप बना रहे हैं, जिसके झांसे में यूजर्स आ जाते हैं. जब यूजर्स ऐसे फर्जी बैंकिंग ऐप डाउनलोड कर लेते हैं तो साइबर फ्रॉडस्टर्स उनके खातों में सेंध लगाकर ठगी की घटना को अंजाम देते हैं.

NPCI ने ग्राहकों के लिए जारी किया अलर्ट

हाल ही में नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (National Payments Corporation of India) ने एक वीडियो शेयर किया है और इस तरह के फ्रॉड से बचने के लिए लोगों को आगाह किया है.

1. डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड की जानकारी किसी के साथ शेयर नहीं करें. इसके अलावा फोन पर वन टाइम पासवर्ड (OTP), यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस आईडी (UPI ID) और पिन की डिटेल शेयर न करें.

2. सिम स्वैप (SIM Swap) या स्पूफिंग (Spoofing) जैसे फ्रॉड से बचने के लिए अपने बैंकिंग डिटेल किसी भी नंबर पर शेयर न करें.

3. सिक्योर पेमेंट गेटवे के जरिए भुगतान करें.

4. सोशल मीडिया पर ट्रांजैक्शन डिटेल शेयर न करें.

5. अगर आपके बैंक अकाउंट से अनधिकृत ट्रांजैक्‍शन या फ्रॉड हुआ है तो आप तुरंत इसकी सूचना संबंधित बैंक को दें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.