अज़रबैजान का दावा आर्मीनिया का लड़ाकू विमान दूसरी बार मार गिराया..

आर्मीनिया और ने विवादित क्षेत्र नागोर्नो काराबाख़ में एक दूसरे पर संघर्ष विराम तोड़ने के आरोप लगाए हैं. दोनों ही पक्ष शनिवार रात 12 बजे से संघर्ष विराम लागू करने पर राज़ी हो गए थे। लेकिन अब आर्मीनिया के रक्षा मंत्रलाय की एक प्रवक्ता ने कहा है कि अज़रबैजान ने संघर्ष विराम लागू होने के चार मिनट बाद ही तोप के गोले और रॉकेट दागे हैं. वहीं, बाद में एक बयान में अज़रबैजान की ओर से कहा गया है कि आर्मीनिया ने दो मिनट बाद ही गोलीबारी शुरू कर दी थी.

दोनों ही देशों ने बीते शनिवार भी रूस की मध्यस्थता के बाद संघर्षविराम के लिए समझौता किया था. हालांकि उस समझौते के बाद भी लड़ाई जारी रही थी. बीते महीने दोनों देशों के बीच उस विवादित क्षेत्र को लेकर लड़ाई शुरू हो गई है जिसे अंतरराष्ट्रीय जगत अज़रबैजान का हिस्सा मानता है लेकिन जिस पर आर्मीनियाई लोगों का नियंत्रण है.इस लड़ाई में अब तक सैकड़ों लोगों की जान जा चुकी है. इस क्षेत्र को लेकर दोनों देशों के बीच छह साल लंबा चला युद्ध 1994 में समझौते के साथ समाप्त हो गया था. उसके बाद से ये अब तक का सबसे हिंसक संघर्ष है.

बीते सप्ताह जब रूस की मध्यस्थता में हुआ समझौता टूटा था तब भी दोनों देशों ने एक दूसरे पर पहले गोलीबारी करने के आरोप लगाए थे.

Leave A Reply

Your email address will not be published.